हमारे शरीर में कही दर्द होती है तो ये हमारे सुरक्षा के लिए होती है ।

ऐसा कौन होगा जो दर्द चाहता होगा । दुनिया में ऐसा कोई नही होगा जो दर्द चाहता हो । दर्द होने का कारण हमारे भलाई है । दर्द के पिछे एक साइंस है । दर्द हमारे शरीर को क्षति होने से बताता है । जब हमें अपने शरीर पर कहीं भी चोंट लगती है तो तुरंत हमें दर्द का ऐहसास होता है । मतलब की हमें दर्द का एहसास इसलिए होता है कि हम अपने आपकी शुरक्षा कर सकें ।                                          अगर हमें दर्द नहीं होता तो अगर हमारी उँगली जलती रहती है हमें पता भी नहीं चलता । दर्द नहीं होने से हमारे उपर कोई भी खतरा आए हमें पता नहीं चलता । हमारी कभी भी मृत्यु हो सकती है । लेकिन दर्द होने का फायदा है की दर्द होते ही हम तुरंत सतर्क हो जाते हैं । जैसे हमारी उँगली आग में जल रही होती है तो हम तुरंत अपनी उँगली वहां से हटा लेते हैं । हमारे सिर, हाथ, पैर, पेट में दर्द होने की वजह से बीमारी का पता लगाते हैं और उसके लिए दवा लेते हैं । जिससे हम जल्द ठिक हो जाते हैं ।अगर हमे दर्द का अहसास नहीं होता तो हमें जितनी बडी बीमारी भी होती हमें पता नहीं चलती और इस तरह केवल 2-3 साल में ही पूरे धरती से हमारा सफाया हो जाता । इसलिए दर्द हमारे बाॅडीगार्ड की तरह है जो हमारे शरीर की रक्षा करता है ।

[[कृपया काॅमेन्ट करके जरूर बताऐं की आपको पोस्ट कैसा लगा और अगर आपको लगता है की पोस्ट में कुछ छुटा है या गलत है तो कृपया कामेन्ट करके जरूर बताऐं । ]]

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *