संत कबीर दास जी का जीवन परिचय । Biography of sant kabir dash.

संत कबीर दास 

संत कबीर दास का जन्म सन् 1398 में काशी के समिप लहर तालाब नामक स्थान में हुआ था । इनका पालन पोषण नीरू और नीमा नाम के जुलाहा दम्पति ने किया था । उन्होंने कुछ खास शिक्षा प्राप्त नहीं की फिर भी उनकी रचनाओं के कारण आज वे विश्व प्रसिद्ध हैं । कबीर के दोहे मन को मोह लेते हैं । उनकी रचना इतनी प्यारी होती है की पहली बार में ही पाठक या श्रोता का मन मोह लेता है । वे समाज मे व्याप्त आडंबर का अपनी रचनाओं द्वारा खुलकर विरोध करते थे । कबीर दास जी मुख्य रूप से कविता ही लिखते थे । वे एक अच्छे समाज सुधारक के रूप सामने आये । संत कबीर दास जी स्वामी रामानंद के विचारों से काफी प्रभावित हुए और समाज सुधारक के रूप में समाज के सामने आये । कबीर दास जी एक महान आत्मा थे ।वे सधुक्कडी या पंचमेल भाषा में रचना करते थे । सन् 1518 में कबीर दास जी मगहर में अंर्तध्यान हो गये ।


प्रमुख प्रचलित रचनाऐं – बीजक, अनुराग सागर, साखी ग्रंथ, शब्दावली, कबीर ग्रंथावली आदी ।


Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *